27 Nov: खेल की खबरें , एक नजर में

INDvNZ 1st Test - श्रेयस अय्यर का पदार्पण मैच में शानदार शतक

स्पिनरों की मुफीद मानी जा रही ग्रीनपार्क स्टेडियम की पिच पर पहले न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज टिम साउथी ने पांच विकेट लेकर भारत को 345 रनों पर आउट कर दिया और उसके बाद ' टीम इंडिया के तीन स्पिनर रविचंद्रन अश्विन , अक्षर पटेल और रवींद्र जडेजा कीवियों का विकेट चटकाने के लिए तरसते रहे । शुक्रवार को पहले टेस्ट के दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक न्यूजीलैंड ने सलामी बल्लेबाज विल यंग और टाम लाथम के नाबाद अर्धशतकों की बदौलत बिना विकेट के 129 रन बना लिए हैं ।

अय्यर के शतक के अलावा कुछ अच्छा नहीं पहला दिन भारत के नाम था और ऐसा लग रहा था कि मेजबानों ने ड्राइविंग सीट पर कब्जा कर लिया है लेकिन दूसरे दिन ऐसा नहीं हुआ । शुक्रवार को श्रेयस अय्यर के पदार्पण टेस्ट शतक के अलावा सबकुछ न्यूजीलैंड के पक्ष में गया । पहले दिन काइल जेमिसन तो दूसरे दिन साउथी ने दबदबा बनाया । सुबह पिच से तेज गेंदबाजों को अधिक उछाल मिली जिससे साउथी ने चार विकेट चटकाए ।

अय्यर की बल्लेबाजी : पहले दिन के निजी स्कोर 75 रन से आगे खेलते हुए अय्यर ने 171 गेंद में 105 रन बनाए । वह अपने पहले टेस्ट में शतक जमाने वाले भारत के 16 वें क्रिकेटर बन गए । सुबह के सत्र में 81 रन बने लेकिन चार विकेट भी गिरे । यह सत्र साउथी के नाम रहा जिन्होंने 27.4 ओवर में 69 रन देकर पांच विकेट लिए । अपना 80 वां टेस्ट खेल रहे साउथी 13 वीं बार यह कमाल कर चुके हैं । उन्होंने सबसे पहले दूसरी नई गेंद से रवींद्र जडेजा को आउट किया जो कल के स्कोर 50 रन पर ही लौट गए । इसके बाद विकेटकीपर रिद्धिमान साहा आउट हुए । इस दौरान अय्यर ने शतक पूरा किया । उनके इस शतक ने कृप्तान अजिंक्य रहाणे और उपकप्तान चेतेश्वर पुजारा पर दबाव बना दिया है क्योंकि मुंबई में होने वाले अगले टेस्ट में नियमित कप्तान विराट कोहली की वापसी होगी । अय्यर ने अपनी जगह पक्की कर ली है तो अब यह देखना होगा कि रन नहीं बना पा रहे रहाणे व पुजारा में किसे बाहर किया जाता है । रविचंद्रन अश्विन को छोड़कर निचले क्रम के बल्लेबाज न्यूजीलैंड के गेंदबाजों का सामना नहीं कर सके । अश्विन ने 56 गेंद में 38 रन बनाए ।

भारतीय गेंदबाजों को नहीं मिले विकेट: दिन के दूसरे सत्र में यंग और लाथम ने भारत की दबाव नहीं बनाने दिया । इशांत शर्मा और उमेश यादव नई गेंद से कोई कमाल नहीं कर सके तो जडेजा , अश्विन और पटेल की स्पिन भी नहीं चली । न्यूजीलैंड अभी 216 रन पीछे है और उसके सारे विकेट सुरक्षित हैं । कीवी बल्लेबाजों ने पगबाधा के तीन फैसलों के खिलाफ डीआरएस लिया और वे कामयाब भी रहे । अश्विन , जडेजा और अक्षर पटेल ने 41 ओवर डाले और 92 रन दिए ।

पोलैंड के खिलाफ हर हाल में जीत चाहेगी भारतीय टीम

कनाडा जैसी कमजोर टीम पर धमाकेदार जीत दर्ज करके अपने अभियान को ढर्रे पर लाने वाली गत चैंपियन भारतीय टीम को एफआइएच पुरुष जूनियर हाकी विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में क्वालीफाई करने के लिए शनिवार को पोलैंड के खिलाफ पूल - बी का आखिरी मैच हर हाल में जीतना होगा ।

टूर्नामेंट शुरू होने से पहले प्रबल दावेदार माने जा रहे भारत को पहले मैच में फ्रांस ने 5-4 से हराकर बड़ा उलटफेर किया । एक जीत और हार के बाद भारत पूल - बी में दूसरे स्थान पर है , जबकि फ्रांस दोनों जीतकर शीर्ष पर है । पोलैंड तीसरे स्थान पर है । क्वार्टर फाइनल में भारत सामना यूरोपीय दिग्गज और शीर्ष वरीयता प्राप्त बेल्जियम से हो सकता जो पूल - ए में शीर्ष रह सकती है । ऐसे में भारत को आत्ममुग्धता से बचकर खेलना होगा ।

एशियाई चैंपियंस ट्राफी में भारत की कप्तानी करेंगे मनप्रीत : ओलिंपिक कांस्य पदक विजेता कप्तान मनप्रीत सिंह ढाका में अगले महीने होने वाली एशियाई चैंपियंस ट्राफी में भारत की 20 सदस्यीय पुरुष हाकी टीम के कप्तान होंगे , जबकि अनुभवी गोलकीपर पीआर श्रीजेश टीम में नहीं हैं । स्टार ड्रैग फ्लिकर हरमनप्रीत सिंह टीम के उप कप्तान होंगे । यह टूर्नामेंट 14 से 22 दिसंबर के बीच खेला जाएगा ।

टोक्यो ओलिंपिक के बाद यह भारत का पहला टूर्नामेंट है टीम में कई नए चेहरों को जगह दी गई है । श्रीजेश को आराम दिया गया है व गोलकीपिंग का जिम्मा केबी पाठक तथा सूरज करकेरा पर रहेगा । गत चैंपियन भारत का सामना पहले दिन कोरिया से होगा । टूर्नामेंट में जापान , मलेशिया , पाकिस्तान व बांग्लादेश भी खेलेंगे । भारत को 14 दिसंबर को कोरिया , 15 को बांग्लादेश , 17 को पाकिस्तान , 18 को मलेशिया व 19 दिसंबर को जापान से खेलना है ।

भारतीय फुटबाल टीम को ब्राजील ने हराया 


भारतीय महिला फुटबाल टीम को ब्राजील जैसी धुरंधर टीम ने चार देशों के अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट के पहले मैच में शुक्रवार को 6-1 से हरा दिया । विश्व कप 2007 की उप विजेता ब्राजील के लिए देबोरा ओलिवियरा ने पहले ही मिनट में गोल कर दिया । भारत की मनीषा कल्याण ने आठवें मिनट में बराबरी का गोल किया जियोवाना कोस्टा ने 36 वें मिनट में ब्राजील को फिर बढ़त दिला दी । दूसरे हाफ में ब्राजील ने चार और गोल दाग दिए । उसके लिए एरियाडिना बोर्गेस ( 52 वां , 81 वां मिनट ) , कैरोलिन फेराज ( 54 वां ) और गेसे फेरेइरा ( 76 वां ) ने गोल किए । इस मैच के साथ ही ब्राजील की मिडफील्डर फोरमिगा ने 43 वर्ष की उम्र में , फुटबाल को अलविदा कह दिया।

घोषाल - चिनप्पा एशियाई चैंपियनशिप में करेंगे अगुआई

सौरव घोषाल और जोशना चिनप्पा 30 नवंबर से चार दिसंबर तक कुआलालंपुर में होने वाली 20 वीं एशियाई स्क्वाश टीम चैंपियनशिप में भारतीय पुरुष और महिला टीमों की अगुआई करेंगे । पुरुष टीम को शीर्ष वरीयता दी गई है जिसमें घोषाल के अलावा रमित टंडन , महेश मनगावंकर और वेलावन सेंथिलकुमार शामिल हैं । यही टीम सात से 12 दिसंबर तक होने वाली विश्व पुरुष टीम चैंपियनशिप में खेलेगी , जो एशियाई चैंपियनशिप के बाद होगी । महिला टीम में चिनप्पा के अलावा सुनयना कुरुविला , उर्वशी जोशी और अपराजिता बालामुरुकन शामिल हैं।

द . अफ्रीका दौरे को लेकर बीसीसीआइ में नहीं हुई कोई बात

नई दिल्ली दक्षिण अफ्रीका में दहशत पैदा करने वाले कोविड -19 के नए स्वरूप कारण भारत के अगले महीने के दौरे को लेकर चिंता पैदा हो गई है और आगामी दिनों में खिलाड़ियों के लिए क्वारंटाइन के नियमों में बदलाव हो सकता है ।

भारत को 17 दिसंबर से होने वाले अपने लगभग सात सप्ताह के दौरे में तीन टेस्ट , तीन वनडे और चार -20 मैच खेलने हैं । ये मैच चार स्थानों जोहानिसबर्ग , सेंचुरियन , पर्ल और केपटाउन में खेले जाएंगे ।

देश के उत्तरी हिस्से में मामले बढ़ हैं और टेस्ट सीरीज के कम से कम दो स्थलों जोहानिसबर्ग और प्रिटोरिया ( सेंचुरियन के करीब ) इस नए स्वरूप की चपेट में आ सकते हैं । बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा , ' देखिए , जब तक हमें क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ( सीएसए ) से वहां की स्थिति का पता नहीं चल जाता तब तक हम अपने अगले कदम के बारे में नहीं बता पाएंगे । वर्तमान कार्यक्रम के अनुसार भारतीय टीम को मुंबई में न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज समाप्त होने के बाद आठ या नौ दिसंबर को रवाना होना है ।

बीसीसीआइ भले ही वर्तमान में दौरे को लेकर कुछ कुछ दिनों में वह सीएसए से नए प्रकार बी . 1.1.509 के बारे में कर सकता है , जिसने पूरी दुनिया को सतर्क कर दिया है । बीसीसीआ अधिकारी ने संकेत दिए कि भले हो खिलाड़ियों को मुंबई से जोहानिसबर्ग चार्टर्ड विमान से भेजा जाएगा , लेकिन बदली परिस्थितियों में उन्हें तीन या चार दिन के कड़े क्वारंटाइन में रहना पड़ सकता है । मालूम हो कि अभी भारत - ए टीम दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर है ।

आस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान बने कमिंस

इंग्लैंड के खिलाफ एशेज सीरीज से ठीक पहले क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने अपने नए कप्तान की घोषणा कर दी । तेज गेंदबाज पैट कमिंस को आस्ट्रेलिया में होने वाली एशेज सीरीज में टीम का नया कप्तान नियुक्त किया गया है । कमिंस आस्ट्रेलिया के 47 वें कप्तान बने हैं । वहीं पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ को उप कप्तान बनाया गया है । कमिंस अब टिम पेन की जगह लेंगे जिन्होंने एक महिला सहकर्मी को अश्लील मैसेज भेजने का चार साल पुराना प्रकाश में आने के बाद पिछले सप्ताह कप्तानी छोड़ दी ।

पहला टेस्ट आठ दिसंबर से ब्रिसबेन में खेला जाएगा । कमिंस ऑस्ट्रेलिया के लिए अब तक कुल 34 मैच खेल चुके हैं । इस दौरान उन्होंने 2.75 की इकोनमी रेट से कुल 164 विकेट लिए हैं । इसके अलावा वह सफेद गेंद क्रिकेट में 69 वनडे और 34 टी -20 मैचों में भी आस्ट्रेलिया के लिए मैदान पर उतर चुके । कमिंस ने वनडे में अब तक 111 विकेट जबकि टी -20 में 42 विकेट लिए हैं । टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी करने वाले आखिरी तेज गेंदबाज रे लिंडवाल थे जिन्होंने 1956 में एक टेस्ट में कार्यवाहक कप्तान के रूप में जिम्मेदारी संभाली थी । कमिंस आस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम की पूर्णकालिक आधार पर अगुआई करने वाले पहले तेज गेंदबाज होंगे । वहीं स्मिथ को 2018 में द . अफ्रीका के खिलाफ गेंद से छेड़खानी मामले के बाद कप्तानी से हटाया गया था ।

युवा स्टार जाह्नवी ने जीता साल का चौथा खिताब

युवा स्टार जाह्नवी बख्शी ने शुक्रवार को यहां महिला प्रो गोल्फ टूर के 13 वें चरण में जीत दर्ज करके लगातार दूसरा व वर्ष का चौथा खिताब जीता । अमनदीप द्राल के साथ पिछले दौर में संयुक्त बढ़त हासिल करने वाली सहर अटवाल को जाह्नवी के साथ प्लेआफ खेलने के लिए 18 वें होल में बर्डी की जरूरत थी , पर वह पार स्कोर ही बना पाईं । वाणी कपूर के पास भी पार -5 वाले 18 वें होल में मौका था , लेकिन वह बोगी कर बैठीं व एक शाट से पीछे रह गईं । जाह्नवी ( 69 ) का कुल स्कोर सात अंडर 209 रहा , जबकि सहर ( 71 ) ने छह अंडर 210 का स्कोर बनाया । वाणी कपूर ( 70 ) व अमनदीप ट्राल ( 72 ) संयुक्त तीसरे स्थान पर रहीं ।

सिंधू और सात्विक - चिराग की जोड़ी सेमीफाइनल में

भारत की दो बार की ओलिंपिक पदक विजेता पीवी सिंधू ने एक गेम गंवाने के बाद वापसी करते हुए दक्षिण कोरिया की सिम युजिन को हराकर इंडोनेशिया ओपन सुपर 1000 बैडमिंटन टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया । सात्विकसाईराज रेंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की पुरुष डबल्स जोड़ी ने मलेशिया के गोह जे फेई और नूर इजुद्दीन को सीधे गेम में 21-19 , 21-19 से हराकर टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बनाई । हालांकि पुरुष सिंगल्स क्वार्टर फाइनल में बी साई प्रणीत को ओलिंपिक चैंपियन और पूर्व नंबर एक डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसेन से 12-21 , 8-21 से सीधे गेम में हार का सामना करना पड़ा ।

मौजूदा विश्व चैंपियन तीसरी वरीयता प्राप्त सिंधू ने युजिन को क्वार्टर फाइनल में एक घंटे और छह मिनट में 14-21 , 21-19 , 21-14 से हराया । सिंधू ने एक समय 7-1 की बढ़त बना ली थी , लेकिन जापानी खिलाड़ी ने लगातार छह अंक लेकर वापसी की और फिर ब्रेक तक 11-10 की बढ़त बना ली । उन्होंने इस लय को कायम रखते हुए पहला गेम जीता । अपार अनुभव का प्रयोग करते हुए सिंधू ने दूसरा गेम जीता । निर्णायक गेम में सिंधू ने युजिन को मौका नहीं दिया । सात्विक और चिराग की जोड़ी ने पुरुष डबल्स के क्वार्टर फाइनल में 43 मिनट में मलेशियाई जोड़ी को हरा दिया ।

द्रविड की फटकार ने बदला धौनी का नजरिया : सहवाग

भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का मानना है कि राहुल द्रविड़ से पड़ी फटकार ने बल्लेबाजी को लेकर महेंद्र सिंह धौनी का नजरिया बदल दिया । राहुल द्रविड़ की कप्तानी ( 2006-07 ) के बीच ही धौनी एक बड़े हिटर से मैच फिनिशर में तब्दील हुए । धौनी ने अप्रैल 2005 में पाकिस्तान के खिलाफ 123 गेंद पर 148 रन की पारी खेली थी । इस पारी ने उन्हें अंतरराष्ट्रीय मंच पर पहचान दिलाई थी । उसी साल उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 183 रन बनाए थे । हालांकि कुछ ही साल में धोनी ने अपनी आक्रामकता पर लगाम लगाई और एक कूल फिनिशर के रूप में पहचान बनाई । यह सब कैसे हुए वीरेंद्र सहवाग ने इसकी पूरी कहानी सुनाई । उन्होंने इंडिया टीवी के साथ बातचीत में कहा कि ने अपना खेल तब्दील किया जब उन्हें मैदान में अंत तक रहने की जिम्मेदारी दी गई । सहवाग ने कहा कि एक विकेटकीपर बल्लेबाज लिए अपने नैसर्गिक खेल पर लगाम लगाना आसान नहीं होता ।   43 वर्षीय सहवाग ने कहा कि उन्हें द्रविड़ की कप्तानी में फिनिशर का रोल दिया गया । द्रविड़ ने एक बार खराब शाट खेलकर आउट हुए धौनी को डांट लगाई थी । मुझे लगता है कि उस घटना ने धौनी को बदल दिया । 2006-07 के करीब वह बदल गए और जिम्मेदारी लेकर मैच खत्म करने लगे । सहवाग ने माना कि धौनी - युवराज की जोड़ी ने भारत की रनों का पीछा करते हासिल की गईं लगातार 16 जीत में अहम भूमिका निभाई । उन्होंने कहा कि धौनी और युवराज के बीच अविश्वसनीय जोड़ी बन गई । तब हमने रनों का पीछा करते हुए रिकार्ड 16 जीत हासिल की थीं । सहवाग ने यह भी बताया कि उन्हें भी सचिन तेंदुलकर और जवागल श्रीनाथ ने दक्षिण अफ्रीका में इसी वजह से डांट लगाई थी । इससे उनके नजरिये में भी बदलाव आया ।

कपिल ने पांड्या के आलराउंडर होने पर उठाए सवाल

भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव ने पूछा कि क्या हार्दिक पांड्या को हरफनमौला कहा जा सकता है जबकि वह उतनी गेंदबाजी करते ही नहीं हैं । सीमित ओवरों के क्रिकेट में भारतीय टीम के अभिन्न अंग रहे पांड्या ने हाल ही में टी 20 विश्व कप में सिर्फ दो मैचों में गेंदबाजी की । भारत टूर्नामेंट के ग्रुप चरण से ही बाहर हो गया था ।

अपनी फिटनेस से जुड़े कई मसलों का रहस्योद्घाटन नहीं करने के लिए भी पाड्या की आलोचना हो रही है । उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ टी -20 सीरीज के लिए टीम में जगह नहीं मिली । भारत ने सीरीज 3-0 से जीती । कपिल ने रायल कलकत्ता गोल्फ कोर्स पर कहा कि हरफनमौला कहलाने के लिए उन्हें दोनों काम करने होंगे । वह गेंदबाजी नहीं कर रहे हैं तो क्या उन्हें हरफनमौला कहेंगे वह चोट से उबर चुके हैं तो पहले उन्हें गेंदबाजी करने दीजिए । गेंदबाजी के लिए उन्हें काफी मैच खेलने होंगे क और अच्छा प्रदर्शन करना होगा । इसके बाद ही हम कह सकेंगे ।

कपिल ने कहा कि नए कोच राहुल द्रविड़ अच्छे इंसान और अच्छे क्रिकेटर भी हैं । वह बतौर क्रिकेटर जितने सफल रहे , कोच के रूप में उससे भी अधिक सफल होंगे । अपने पसंदीदा हरफनमौला के बारे में पूछने पर कपिल ने रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा का नाम लिया । उन्होंने कहा कि मैं आजकल क्रिकेट का सिर्फ मजा लेने जाता हूँ । मेरा काम वही है । मैं आपके नजरिए से नहीं देखता । कपिल ने पसंदीदा हरफनमौला के बारे में कहा कि मैं अश्विन का नाम लूंगा । वह जबर्दस्त हैं । जडेजा भी शानदार क्रिकेटर हैं लेकिन उनकी बल्लेबाजी बेहतर हुई है तो गेंदबाजी खराब हो गई है भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज पर उन्होंने कहा कि दोनों देशों की सरकार और बोर्ड इस पर फैसला लेंगे ।

टी -20 रैंकिंग : विराट शीर्ष दस से बाहर , राहुल पांचवें

भारतीय टी -20 टीम की कप्तानी छोड़ने वाले विराट कोहली आईसीसी टी -20 बल्लेबाजी रैंकिंग में टॉप 10 से बाहर हो गए हैं । भारत और न्यूजीलैंड के बीच हाल में समाप्त हुई तीन मैच की टी 20 सीरीज से आराम लेने के बाद विराट रैंकिंग में तीन पायदान खिसकर 11 वें नंबर पर आ गए हैं ।

राहुल एक स्थान ऊपर: पिछली सीरीज में 49 गेंद पर 65 रन की शानदार मैच विजयी पारी खेलने वाले भारतीय सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल एक स्थान के फायदे के साथ पांचवें स्थान पर पहुंच गए हैं । मार्टिन गुप्टिल 10 वें नंबर पर आ गए हैं ।

रोहित की छलांगः भारतीय टी 20 टीम के कप्तान रोहित शर्मा दो स्थान की छलांग से 13 वें नंबर पर पहुंचे । न्यूजीलैंड के खिलाफ टी -20 सीरीज में उन्होंने 159 रन बनाए । पाक के रिजवान बांग्लादेश संग टी 20 सीरीज में शानदार प्रदर्शन से एक स्थान ऊपर चौथे स्थान पर आ गए हैं ।

और नया पुराने